Saturday, January 29, 2022
HomeDesh/Videshकोरोना की तीसरी लहर से बचने सीएम शिवराज सिंह चौहान किया अलर्ट,...

कोरोना की तीसरी लहर से बचने सीएम शिवराज सिंह चौहान किया अलर्ट, राज्य में 600 से ज्यादा सक्रिय मामले

कोरोना पर अलर्ट :भोपाल. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य में कोविड 19 के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। हमें इस संक्रमण की तीसरी लहर से बचाव के लिए पूरी तरह मुस्तैद रहने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि कोरोना के सक्रिय मामले 608 हो गए हैं। वहीं कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के 11 केस आए हैं, वे सभी ठीक हो चुके हैं।

प्रदेश के सीएम श्री चौहान ने रविवार को जिला, विकास खंड, वार्ड और पंचायत स्तरीय क्रॉइसिस मैनेजमेंट ग्रुप्स को संबोधित करते हुए कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन, इटली, फ्रांस, दक्षिण अफ्रीका में बहुत अधिक केस आए हैं। इन देशों की स्थिति को ध्यान में रखकर मध्यप्रदेश में तीसरी लहर से बचने की तैयारी पूरी कर ली जाए।

बच्चों को लगाई जाएगी कोवैक्सीन

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज में 90 प्रतिशत से कम टीकाकरण वाले जिलों मेहनत कर प्रतिशत को बढ़ायें। उन्होंने बताया कि 15-18 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण 3 जनवरी से शुरू होगा। बच्चों को  कोवैक्सीन लगाई जाएगी। साथ ही यह वैक्सीनेशन स्कूलों में ही होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होम आइसोलेशन सर्वाधिक प्राथमिकता में है। मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना में निजी अस्पतालों का एग्रीमेंट 31 मार्च तक बढ़ाया गया है। इसके लिए उन्होंने कलेक्टर्स को जरुरू निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश अब तक में 140 करोड़ टीके लग चुके हैं। सांसद, विधायक, समाजसेवी, धर्मगुरु, पतंजलि योगपीठ, गायत्री परिवार, जनअभियान परिषद, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, लायंस क्लब, रोटरी क्लब आदि सभी को इसके लिए जोड़ना है। प्रभारी मंत्री सबको जोड़कर काम करायें।

कोविड केयर सेंटर्स का निर्माण करें

श्री चौहान ने कहा कि हम बच्चों का टीकाकरण करवाकर ही हम चैन की साँस लेंगे। यह सबसे बड़ी सुरक्षा है। उन्होंने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियां वैक्सीनेशन सुनिश्चित करायें। जांच की संख्या बढ़ाएं। ब्लॉक स्तर पर कोविड केयर सेन्टर निर्माण की तैयारी करें। हास्पिटल्स में भीड़ न बढ़े इसके लिए कोविड केयर सेन्टर्स पर रोगियों को रखें। कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग जरूर कराएं

प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार द्वारा निर्धारित दर पर इलाज हो। इसका ध्यान रखना होगा।  किसी भी हालात में ऑक्सीजन की कमी न हो। यह सबसे जरूरी आवश्यकता है। बैठक में अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने कोविड 19 की वर्तमान स्थिति और इससे निपटने के लिये की गई तैयारियों को लेकर प्रजेंटेशन दिया।

इसे भी पढ़ें – देश में बढ़ रहे ओमिक्रॉन के मामले

Covid 19 Update : नई दिल्ली. देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इसके अलावा कोरोना के डेल्टा वेरिएंट से संक्रमण के केस में भी तेजी से बढ़ोतरी हुई है।

बीते सप्ताह कोविड 19 के 6 से 7 हजार मामले प्रतिदिन रिकार्ड हो रहे थे, जिसमें अब बढ़ोतरी हो गई है।  अब हर दिन 33,750 मामले निकल रहे हैं। सर्वाधिक खतरा महाराष्ट्र (Maharashtra) में मंडरा रहा है। महाराष्ट्र के हेल्थ मिनिस्ट्री ने बताया कि यहां बीते चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 11,877  नए केस मिले हैं, जिसमें 7792 मामले केवल मुंबई के हैं। इसके अलावा ओमिक्रॉन वेरिएंट के 50 मामले सामने आए हैं।

Omicron के 17 सौ मामले

Omicron संक्रमितों की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। इस वेरिएंट के 17 सौ  केस हो चुके हैं। हर दिन सौ से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं। महाराष्ट्र में अब तक 510 और दिल्ली में 351 लोग ओमिक्रॉन (Omicron) संक्रमित पाए जा चुके हैं। दिल्ली,  महाराष्ट्र, गुजरात,  केरल, ओडिशा (Delhi, Maharashtra, Gujarat, Kerala, Odisha) समेत 23 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में यह फैल चुका है। दिल्ली, बंगाल,  हरियाणा समेत कई राज्य कोरोना संक्रमण को रोकने पाबंदी जैसे सख्त कदम उठा रहे हैं। वहीं कुछ राज्य संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की योजना बना रहे हैं।

लगातार पांव पसार रहा ओमिक्रॉन, 12 सौ से ज्यादा हुए मामले, यहां लगा एक महीने का नाइट कर्फ्यू

ओमिक्रॉन (Omicron) से संक्रमण के मामले में ओडिशा, महाराष्ट्र, केरल में भी बढ़े हैं। ओडिशा में एक दिन में ओमिक्रॉन वेरिएंट के 23,  महाराष्ट्र में 50 और केरल में 45 नए मामले दर्ज किए गए हैं।

Twitter _  https://twitter.com/babapost_c

Facebook _ https://www.facebook.com/baba.post.338/

YouTube_सबस्क्राइब करें यूट्यूब चैनल

RELATED ARTICLES

Most Popular