Thursday, December 1, 2022
HomeChhattisgarhजिले में अवैध प्लाटिंग के लिए कार्रवाई जारी रखें - सीईओ...

जिले में अवैध प्लाटिंग के लिए कार्रवाई जारी रखें – सीईओ लोकेश चंद्राकर

राजनांदगांव. मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत लोकेश चंद्राकर ने कहा कि गोधन न्याय योजना शासन की महत्वपूर्ण योजना है। इसके लिए गंभीरता से कार्य करने की जरूरत है। गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट निर्माण की गति में तेजी लाएं। जिन गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट कम बने हैं ऐसे गौठानों का चिन्हांकन कर वहां गति बढ़ाएं। नये गौठानों का निर्माण किया जा रहा है। वहां भी वर्मी टांकों में वर्मी खाद बनाना प्रारंभ कर दें। इसके लिए पहले से ही तैयारी रखें।

उन्होंने कहा कि जिले में लगभग 2 लाख 34 हजार क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट का निर्माण किया गया है। जिसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं लेकिन इस दिशा में और अधिक काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जैविक खेती के लिए वर्मी कम्पोस्ट के फायदे को देखते हुए इसकी बिक्री को बढ़ावा दें और किसानों को प्रोत्साहित कर उनमें जागरूकता लाएं। ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में वर्मी कम्पोस्ट निर्माण के साथ ही विक्रय की व्यवस्था सुनिश्चित करें। उक्त बातंे उन्होंने साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक के दौरान कही।

जिला पंचायत सीईओ लोकेश चंद्राकर ने कहा कि मुख्यमंत्री सस्ती दवा योजना के तहत धन्वंतरी मेडिकल स्टोर्स का निरीक्षण करें एवं अन्य व्यवस्था सुनिश्चित करें। दवाईयों के क्रय-विक्रय की भी जानकारी लें। इस योजना का सीधा लाभ जनसामान्य को मिलना चाहिए। उन्होंने डोंगरगढ़, अंबागढ़ चौकी, डोंगरगांव, छुरिया में गोदाम निर्माण के लिए स्थान चिन्हांकित करने के लिए कहा।

कस्टम मिलिंग के लिए धान के उठाव में तेजी, सेंट्रल पूल में भी जमा किया जा रहा चावल

जिला शिक्षा अधिकारी को प्रत्येक विकासखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में मॉडल स्कूल का निर्माण के लिए स्कूल चिन्हांकित करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि जिले में अवैध प्लाटिंग के लिए अच्छी कार्रवाई की गई है। आगे भी इसे जारी रखें तथा लोगों में जागरूकता लाएं। उन्होंने कहा कि बहुत से लोग नदी के किनारे भी अतिक्रमण कर रहे हैं। अतिक्रमण को हतोत्साहित करना है।

मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना के तहत व्यापक रूप से सघन पौधरोपण किया जाएगा। इसके लिए 4 माह में भूमि का चिन्हांकन, पानी की व्यवस्था कर लें। किसानों को फलदार वृक्ष लगाने के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि नदियों के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए इनको पुर्नजीवित करना आवश्यक है, ताकि आगे आने वाली पीढ़ी नदियों से लाभान्वित हो सके। मिट्टी के कटाव को रोकने के लिए कार्य करें।  राजस्व प्रकरणों के निराकरण के लिए शिविर लगाएं और ऋण पुस्तिका, सीमांकन, बंटवारा जैसे प्रकरणों का निराकरण कर ग्रामवासियों को तत्काल लाभ मिलना चाहिए। फसल चक्र की पूरी तैयारी करें।

राजिम माघी पु्न्नी मेला 2022 : सांस्कृतिक कार्यक्रम तय किए गए, ये कलाकार इस दिन देंगे प्रस्तुति

उन्होंने राजीव गांधी युवा मितान क्लब, खाद की उपलब्धता, मिनी स्टेडियम के रख-रखाव, सड़कों में अतिक्रमण, सघन सुपोषण अभियान, स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल की समीक्षा की। 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के टीकाकरण के लिए टीम भेजने के निर्देश दिए। इस अवसर पर संयुक्त कलेक्टर श्रीमती इंदिरा देवहारी, एसडीएम राजनांदगांव अरूण वर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। जिला स्तरीय अधिकारी एवं सभी एसडीएम वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से जुड़े रहे।

Amazing : बस्तर के फैशन शो में ट्रांसजेंडर्स का रैंप वॉक देख लोग कहने लगे “वाह”

RELATED ARTICLES

Most Popular