Saturday, October 23, 2021
HomeNewsदेश के 10 बैंकों का होगा विलय, मंत्री ने कहा-1 अप्रैल से...

देश के 10 बैंकों का होगा विलय, मंत्री ने कहा-1 अप्रैल से होगा यह प्रभावी, बनेंगे 4 बड़े बैंक

नई दिल्लीे. 10 बैंकों का विलय (Merge) कर 4 बड़े बैंक बनाने की तैयारी शुरू हो गई है.  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों का विलय करने की प्रक्रिया चल रही है. उन्होंने कहा कि विलय 1 अप्रैल 2020 से प्रभाव में आ जाएगा। सीतारमण ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है और सरकार संबंधित बैंकों के साथ लगातार संपर्क में है। उन्होंने कहा कि इसमें कोई नियामकीय मुद्दा नहीं होगा।

इसे भी पढ़े-कोरोना वायरस : चीन के बाद इटली में सबसे ज्यादा मौत, विदेशों से लौट रहे भारतीयों की हो रही जांच

वित्त मंत्री ने  कहा, बैंक मर्ज का काम चल रहा है और संबंधित बैंकों के निदेशक मंडल पहले ही निर्णय कर चुके हैं। इसका उद्देश्य देश में वैश्विक आकार के बड़े बैंक बनाना है। गौरतलब है कि सरकार ने पिछले साल अगस्त में सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों का विलय कर 4 बैंक बनाने की घोषणा की थी। इससे सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या घटकर 12 पर आ गई, जो 2017 में 27 थी। पिछले साल देना बैंक और विजया बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय कर दिया गया था।

इसे भी पढ़े-Women T-20 World Cup : भारत और इंग्लैंड के बीच सेमीफाइनल आज, बारिश की आशंका, मैच रद्द हुआ तो भारत फाइनल में

इन बैंकों का विलय प्रस्तावित

  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स का विलय पंजाब नेशनल बैंक में
  • सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक में
  • इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में
  • आंध्र बैंक तथा कॉरपोरेशन बैंक का विलय यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में

इसे भी पढ़े-तूफान ने ली 25 लोगों की जान, हवा की रफ्तार इतनी तेज कि विमान हुआ क्रैश

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments