Sunday, October 17, 2021
HomeNewsमुंबई से अलीबाग आ रही सैलानियों से भरी नाव पलटी, सभी लोग...

मुंबई से अलीबाग आ रही सैलानियों से भरी नाव पलटी, सभी लोग बचाए गए

मुंबई से अलीबाग आ रही सैलानियों से भरी नाव पलट गई. नाव में 88 लोग सवार थे. पुलिस कर्मचारियों ने सभी लोगों को सुरक्षित बचा लिया. हादसे के दौरान किसी सैलानी को नुकसान नहीं हुआ. नाव पलटने के दौरान इस में सवार सैलानी भयभीत रहे. लेकिन पुलिस ने तत्काल पहुंचकर लोगों की मदद की.

इसे भी पढ़े – नवविवाहित जोड़े सहित सड़क हादसे में 11 लोगों की मौत, तीन घायल

boat_Mumbaiअलीबाग के मांडवा पुलिस कर्मचारी प्रशांत घरत और सदगुरु ने  मिलकर डूब रहे सैलानियों का बचाव कर लिया. दोनों ने बिना किसी देरी के हादसे का शिकार 88 सैलानियों को वक्त रहते बचा लिया. इस हादसे को लेकर रायगढ़ के एसपी अनिल परस्कर ने बताया कि 88 यात्रियों को बचा लिया गया है. यात्री अजंता नाम की नाव में सवाल थे और मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया से मंडावा तक यात्रा कर रहे थे.

 

 

 

इसे भी पढ़े –छत्तीसगढ़ | थप्पड़ मारने से नाराज युवक ने सालभर बाद साथियों के साथ मिलकर कर दी डाक्टर की हत्या

इसे भी पढ़े – कोरोना वायरस | भारत में दूसरी मौत, केरल में स्वास्थ्यकर्मियों को मकान मालिक ने निकाला

 

इस खबर को भी पढ़े-

छत्तीसगढ़ | थप्पड़ मारने से नाराज युवक ने सालभर बाद साथियों के साथ मिलकर कर दी डाक्टर की हत्या

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के रायपुर (Raipur) में थप्पड़ मारने से नाराज युवक ने सालभर बाद साथियों के साथ मिलकर एक डाक्टर की हत्या कर दी। मामला गुरुवार को भाठागांव जोन ऑफिस के पास का है। मृतक डा. जीवन जलक्षत्री क्लीनिक में अकेले थे। उनके क्लिनिक में चार लोग घुसे थे। दूसरी ओर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर भाजपा नेताओं ने  थाने में भी धरना दिया। इधर पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के जरिए आरोपियों का पता लगाया और देर रात तक सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है। और देर रात छापेमारी कर सभी को पकड़ लिया। हत्या की वजह पुरानी रंजिश और छेड़खानी को बताया जा रहा है।

बदला लेने रची साजिश

पुलिस के अनुसार चारों आरोपी दीपक विश्वकर्मा, योगेश यादव, संजय ध्रुव और अरुण ध्रुव का घर भाठागांव में डा. जलक्षत्री के घर आसपास ही रहते हैं। बताया गया कि एक आरोपी अरुण का करीब एक साल पहले डाक्टर के साथ विवाद हुआ था। इसके चलते डाक्टर ने उसे थप्पड़ मार दिया था। इसके बाद से अरूण डाक्टर से नाराज था। और वह बदला लेने की फिराक में था। उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर डाक्टर की हत्या की साजिश रची।

सीसीटीवी फुटेज से पकड़े गए आरोपी

गुरुवार की शाम 4 बजे अरुण और उसके साथी नशे की हालत में डाक्टर के क्लीनिक पहुंचे। जहां दो साथियों ने डाक्टर पर चाकू से हमला कर दिया। डा. जलक्षत्री भाजपा पुरानी बस्ती मंडल के पूर्व महामंत्री रह चुके हैं। उन पर हमले की खबर सुनते ही कई बड़े नेता अस्पताल पहुंचे। यहां डाक्टर की मौत हो जाने की जानकारी मिलने पर भाजपा नेता पुरानी बस्ती थाने पहुंचे और आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग करने लगे। इसके चलते पुलिस ने तत्काल जांच शुरू की। डाक्टर की हत्या के बाद भागने के दौरान आरोपियों सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे। पुलिस ने आसपास की दुकानों के सीसीटीवी फुटेज की जांच की। लोगों ने फुटेज में आरोपियों को पहचान लिया। नाराज लोग आरोपियों के घर पहुंच गए। एक आरोपी पकड़ में आ गया, उसकी जमकर पिटाई भी की। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments