छत्तीसगढ़ : खराब परफार्मेंस वाले सीएमओ पर बरसे मंत्री डहरिया, 2 को किया सस्पेंड, 3 को नोटिस

रायपुर. नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा श्रम मंत्री डाॅ.शिवकुमार डहरिया ने महानदी भवन के सभा कक्ष में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वर्चुअल जुड़कर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के अंतर्गत प्रदेश के सभी 112 नगर पंचायतों के सीएमओ की बैठक लेकर शासन द्वारा संचालित महत्वाकांक्षी योजनाओं और कार्यों की समीक्षा की।

बैठक में विभागीय योजनाओं और कार्यों के क्रियान्वयन में रुचि नहीं लेने वाले और विभागीय जानकारी नहीं रखने वाले सीएमओ सहित खराब परफॉर्मेंस वाले सीएमओ को कार्यशैली में सुधार करने के निर्देश दिए हैं, अन्यथा कार्यवाही की चेतावनी दी गई है। मंत्री ने सभी नगर पंचायत सीएमओं को निर्देशित किया कि शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं का समय पर क्रियान्वयन  सुनिश्चित करते हुए लोगों को मूलभूत सुविधाएं प्राथमिकता से उपलब्ध कराने, बारिश के साथ उत्पन्न होने वाली समस्याएं और मौसमी बीमारी, डेंगू व मलेरिया के रोकथाम के लिए आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए।

मंत्री ने लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने, जल जनित बीमारी से बचाव के लिए पानी टंकी की सफाई, ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव, पाइप लाइन में लीकेज की जांच, डोर टू डोर कचरे का उठाव, नाली आदि की सफाई के निर्देश दिए। बैठक में  प्रधानमंत्री आवास शहरी, पौनी पसारी योजना की प्रगति और गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर खरीदी, वर्मी कम्पोस्ट का निर्माण व विक्रय, नगर पंचायतों में राजस्व वसूली बढ़ाने, स्ट्रीट लाइट का समय पर संधारण, टैंकर मुक्त अभियान, कर्मचारियों के समय पर वेतन भुगतान सहित अन्य बिंदुओं पर समीक्षा की। बैठक में नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की सचिव श्रीमती अलरमेल मंगई डी, संयुक्त सचिव आर एक्का, सी ई ओ सूडा  सौमिल रंजन चौबे,डिप्टी सीईओ प्रोजेक्ट शैलेंद्र पाटले सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

खराब परफॉर्मेंस पर 2 सीएमओ सस्पेंड, 5 को नोटिस

नगर पंचायतों की समीक्षा बैठक में मंत्री डॉ डहरिया ने आय पत्रक की सही-सही जानकारी नहीं देने और योजनाओं के क्रियान्वयन में पिछड़े होने पर पेंड्रा के विष्णु प्रसाद यादव और भानुप्रतापपुर के ललित कुमार साहू सीएमओ को सस्पेंड करने और घरघोड़ा, खरौद, बेरला और भोपालपट्टनम, सीतापुर के सीएमओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

3 इंजीनियरों पर कार्यवाही

मंत्री डॉ डहरिया ने नगर पंचायत मगरलोड में विगत ढाई माह से कार्य में अनुपस्थित सब इंजीनियर पर नियमानुसार कार्यवाही और अन्य की नियुक्ति के निर्देश दिए। इसी तरह आमदी नगर पंचायत में 10 सीसी रोड निर्माण में से 7 का और जरही नगर पंचायत में 2 सीसी  रोड़ निर्माण कार्य का सैम्पल में फेल होने पर सब इंजीनियर को सस्पेंड किया गया। वर्तमान में झगराखण्ड में पदस्थ सब इंजीनयर विकास मिश्रा के खिलाफ मिली शिकायत पर भी संभाग के सयुंक्त संचालक को जांच के निर्देश देते हुए मंत्री डॉ डहरिया ने कार्यों में किसी प्रकार से गुणवत्ता से समझौता नहीं करने के निर्देश दिए।

15 अगस्त तक पौनी पसारी के कार्य शुरू करें

मंत्री डॉ डहरिया ने पौनी पसारी योजना अंतर्गत भूमि आवंटन,टेण्डर नहीं होने सहित अन्य  कमियों और इस दिशा में सीएमओ के कार्य संतोषजनक नहीं होने पर  कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने सीएमओ को कलेक्टर से संपर्क कर पौनी पसारी योजना के लंबित कार्यों का  शीघ्रता से निराकृत करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप पौनी पसारी योजना के अंतर्गत कार्यों को प्राथमिकता से समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए। मंत्री ने सभी सीएमओ को 15 अगस्त तक पौनी पसारी के कार्यों को अनिवार्य रूप से प्रारंभ करने के निर्देश दिए हैं।

अनुकम्पा नियुक्ति के मामलों को प्राथमिकता दें

बैठक में मंत्री ने राज्य शासन द्वारा अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों के लंबित मामलों पर प्राथमिकता से कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने पद स्वीकृति नहीं होने की स्थिति में आश्रितों को स्वीकृति पश्चात प्लेसमेंट के तहत लाभान्वित करने के निर्देश भी दिए।

गोबर की कम खरीदी पर मिली चेतावनी

बैठक में गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर की कम खरीदी और वर्मी कंपोस्ट निर्माण की गति कम होने पर मल्हार,  पेंड्रा, लोरमी, खरौद, बलौदा,  नवागढ़, माना, पलारी, बारसूर सहित अनेक नगर पंचायत सीएमओ पर नाराजगी व्यक्त की गई।

आय व्यय की गलत जानकारी की होगी जांज

मंत्री डॉ डहरिया ने बैठक में आय व्यय की गलत जानकारी देने वाले तथा कार्यों में रुचि नहीं लेने वाले अनेक सीएमओ पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी संभाग के सयुंक्त संचालकों को जांच के निर्देश दिए हैं। मंत्री ने अधिकांश सीएमओं को आय-व्यय पत्रक में गलत जानकारी, योजनाओं के क्रियान्वयन सहित अन्य गतिविधियों की सही-सही जानकारी नहीं होने पर  संबंधित सीएमओ के कार्यों की समीक्षा करते हुए उनकी रिपोर्ट 15 दिन में तैयार करने के निर्देश संभागीय जॉइंट डायरेक्टर को दिए हैं। इसके साथ ही नगर पंचायतों के सीएमओ को भी निर्देशित किया गया है कि वे अपने कार्यों में सुधार लाए और कार्यालय के गतिविधियों में रुचि लें।

ब्याज के पैसे से करें देनदारी की भुगतान

बैठक में निर्देशित किया गया कि राशि होने पर देनदारियों का भुगतान सुनिश्चित करें। मंत्री ने निकाय को बैंकों से प्राप्त ब्याज की राशि से देनदारी का भुगतान अनुमति प्राप्त कर करने के निर्देश दिए। ब्याज की राशि अतरिक्त होने पर बैंकों में फिक्स डिपाजिट कराने के निर्देश भी दिए गए हैं। सभी सीएमओ को बैंक खाते आटो स्वीप करने और बचत खाते में बदलने के निर्देश दिए गए।

अधोसंरचना संबंधित कार्यों का प्रस्ताव शीघ्र दें

बैठक में सभी सीएमओ को निर्देशित किया गया कि अधोसंरचना अंतर्गत कार्यों का प्रस्ताव शीघ्र प्रेषित करें। अनेक नगर पंचायतों द्वारा प्रस्ताव प्रेषित नहीं करने पर नाराजगी व्यक्त की गई। मंत्री ने कहा कि प्रस्ताव नहीं देने से विकास कार्यों में कमी आ सकती है।

समय पर करें बिजली बिल का भुगतान

मंत्री ने सभी सीएमओ को निर्देशित किया कि नगर पंचायतों में अधिक बिजली बिल लंबित होने की शिकायत सामने आती है। बाद में राशि के लिए शासन से अपेक्षा की जाती हैं। मंत्री ने सभी सीएमओ को बिजली बिल का भुगतान समय पर करने के निर्देश दिए। उन्होंने लंबे समय तक बिजली बिल लंबित रहने और अधिभार की वजह से राशि में वृद्धि की शिकायत सामने आने पर संबंधित सीएमओ पर जिम्मेदारी तय करने की बात कही।

नए मोबाइल टेस्टिंग लैब की होगी खरीदी

मंत्री डॉ डहरिया ने सभी संभागों में निकाय अंतर्गत निर्माण कार्यों में गुणवत्ता जांच के लिए मोबाइल टेस्टिंग लैब वाहन क्रय करने हेतु आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश संभाग के संयुक्त संचालकों को दिए है।

इसे भी पढ़ें – मनरेगा : महासमुंद सहित इन जिलों में नियुक्त किए गए 14 नए लोकपाल, इन शिकायतों की करेंगे जांच

Twitter _  https://twitter.com/babapost_c

Facebook _ https://www.facebook.com/baba.post.338/

YouTube_सबस्क्राइब करें यूट्यूब चैनल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *