मुख्यमंत्री बघेल शिक्षक दिवस पर शामिल होंगे ‘शिक्षा मड़ई‘ में, नवाचारी शिक्षकों का होगा सम्मान

रायपुर.  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मुख्य आतिथ्य में शिक्षक दिवस के अवसर पर 5 सितम्बर को नवाचारी शिक्षकों के कार्यों पर आधारित प्रदर्शनी ‘शिक्षा मड़ई‘ का आयोजन किया जाएगा। यह आयोजन दोपहर 01 बजे आर.डी. तिवारी स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल आमापारा रायपुर में होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस अवसर पर स्कूल का लोकार्पण करेंगे। कार्यक्रम में नवाचारी शिक्षकों का सम्मान, महतारी दुलार योजना के बच्चों को छात्रवृत्ति का वितरण भी किया जाएगा।

शिक्षक सम्मान समारोह : शिक्षक विजय शर्मा को डॉ मुकुटधर पांडेय स्मृति पुरस्कार, 5 सितंबर को 58 शिक्षक होंगे सम्मानित

कार्यक्रम की अध्यक्षता स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम करेंगे। कार्यक्रम में कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय और महापौर रायपुर एजाज ढेबर विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे। कार्यक्रम में राज्य के चुनिंदा नवाचारी शिक्षक भी शामिल होंगे।

शिक्षा मड़ई कार्यक्रम में मुख्यमंत्री और अतिथियों द्वारा स्कूल का लोकार्पण किया जाएगा। इसके बाद मोहल्ला कक्षा और लाउडस्पीकर कक्षा, मोटर-साइकिल गुरूजी क्लास, सिनेमा वाले गुरूजी क्लास, श्यामपट वाले गुरूजी क्लास, अंगना में शिक्षा, स्मार्ट क्लास एवं जुगाड़ स्टूडियो, पपेट शो, विज्ञान-रसायन-भौतिक प्रयोगशाला का अवलोकन किया जाएगा। इसके साथ ही  टीएलएम (टीचर लर्निंग मटेरियल) प्रदर्शनी, पुस्तकालय, अमाराईट प्रोजेक्ट, बच्चों द्वारा खेले जा रहे विभिन्न स्थानीय खेल का अवलोकन भी करेंगे।

स्कूलों में बेसलाईन आंकलन शुरू : कक्षा पहली से आठवीं तक के बच्चे होंगे शामिल

महासमुंद. शासकीय प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक शालाओं में अध्ययनरत् कक्षा पहली से आठवीं तक के विद्यार्थियों का बेसलाईन आंकलन 31 अगस्त से शुरू हो गया है यह 10 सितम्बर तक चलेगा। विभागीय अधिकारी ने बताया कि बेसलाईन आंकलन से यह पता चलेगा कि बच्चे ने कितना सीखा है और वर्तमान में उसका शिक्षा स्तर किस कक्षा के अनुरूप पाया गया। इससे कक्षा अध्यापन करने में शिक्षकाें को मदद मिलेगी।

अधिकारियों ने बताया कि सत्र में 03 आंकलन बेसलाईन, मिडलाईन एवं एंडलाईन और पॉच इकाई मूल्यांकन होगा।बेसलाईन कक्षावार, विषयवार निर्मित सेतु कार्यक्रम पर आधारित होगा। मिडलाईन आंकलन कक्षावार, विषयवार, पाठ्यक्रम के 60% भाग से होगा। एंडलाइन आंकलन पाठ्यक्रम के शेष 40% भाग से होगा। आंकलन की संपूर्ण प्रक्रिया संपादित करते समय शालाओं में कोविड-19 के लिए भारत सरकार एवं राज्य शासन द्वारा समय-समय पर जारी समस्त दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा।

Twitter _  https://twitter.com/babapost_c

Facebook _ https://www.facebook.com/baba.post.338/

YouTube_सबस्क्राइब करें यूट्यूब चैनल

Leave a Reply

Your email address will not be published.