Wednesday, December 1, 2021
HomeNewsChhattisgarhमहासमुंद : लोन पास कराने के नाम पर 15 लोगों से 8...

महासमुंद : लोन पास कराने के नाम पर 15 लोगों से 8 लाख रुपए से ज्यादा की ठगी, झांसे में आए युवक ने लिखाई रिपोर्ट

महासमुंद (छत्तीसगढ़). खादी ग्राम उद्योग योजना के तहत लोन दिलाने का झांसा देकर एक व्यक्ति द्वारा 15 लोगों से 8 लाख रुपए से ज्यादा की ठगी किए जाने का मामला सामने आया है। मामले में ठगी के शिकार एक युवक ने आरोपी के खिलाफ सरायपाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

पूरे मामले को लेकर 29 अक्टूबर 2021 को रिपोर्ट लिखाते हुए ग्राम सिंघनपुर निवासी व प्रार्थी जितेंद्रकुमार नर्मदा पिता राजाराम नर्मदा ने बताया कि मैं कृषि कार्य करता हूं। करीब ढाई साल पूर्व फरवरी 2019 में मेरे परिचित अश्वनी साहू पिता जगतराम साहू (52) निवासी ग्राम दुलारपाली थाना सरायपाली जिला महासमुंद(छ0ग0) वर्तमान निवासी उर्मिला भवन के सामने पतेरापाली ने मुझसे खादी ग्राम उद्योग योजना के तहत सब्सिडी वाला 20,00000 रूपये का लोन पास करवा दूंगा कहते हुए मुझसे 80,000 रूपये मांगे। मैने उसके झांसे में आकर उसके पतेरापाली स्थित निवास में उसे 80,000 रूपये दे दिया। लेकिन अश्वनी ने मेरा लोन पास नहीं करवाया और न ही मेरा 80,000 रूपये वापस किया।

छत्तीसगढ़ : दूसरे की जमीन को अपनी बताकर महिला से ठगी, जानें क्या है पूरा मामला

प्रार्थी ने आगे बताया कि इसी तरह अश्वनी साहू ने मेरे साथियों मुकेश साहू, छायाराम गोनार, डोलकुमार साहू, हरिदास, खीरसागर, देवार्चन, समारू, सोहनदास, रामसिंग, शिवप्रसाद, श्यामसुंदर भोई, रोहित साहू, बिसीकेशन पटेल, गोपाल साहू से भी लोन पास करवा दूंगा कहकर कुल 7,24,000 रूपये वसूल लिए और न ही लोन पास करवाया और न ही राशि वापस किया।

प्रार्थी ने रिपोर्ट में बताया कि आरोपी अश्वनी साहू ने मुझसे 80,000 लिए हैं। इसके अलावा मुकेश साहू 1,31,000, छायाराम गोनार 70,000, डोलकुमार साहू 77000, हरिदास 15000, खीरसागर डडसेना 95000, देवार्चन 15000, समारू 25000, सोहन दास 15000, रामसिंग 21000, शिवप्रसाद 50000, श्यामसुंदर भोई 40000, रोहित साहू 50000,बिसीकेशन पटेल 15000, गोपाल साहू 25000 रुपए इस सभी से नगद लिए (प्रार्थी ने रिपोर्ट में  बताया है कि इस लेनदेन का वीडियो एवं ऑडियो रिकार्डिग संलग्न है)। आरोपी  लोन दिलाने के नाम पर झूठा दिलासा देता रहा और अंत में न ही लोन पास करवाया और न ही राशि को किसी को वापस किया गया। मामले में सरायपाली पुलिस ने आरोपी के खिलाफ भादवि की धारा 420 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।

Twitter _  https://twitter.com/babapost_c

Facebook _ https://www.facebook.com/baba.post.338/

YouTube_सबस्क्राइब करें यूट्यूब चैनल

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments