Saturday, October 23, 2021
HomeNewsइस देश के यूनिवर्सिटी में पढ़ाया जाएगा भारतीय जनता पार्टी का इतिहास

इस देश के यूनिवर्सिटी में पढ़ाया जाएगा भारतीय जनता पार्टी का इतिहास

भारतीय जनता पार्टी का इतिहास अब एक यूनिवर्सिटी में पढ़ाया जाएगा। यह यूनिवर्सिटी भारत की नहीं बल्कि इंडोनेशिया की है।  यहां शांतनु गुप्ता की किताब –भारतीय जनता पार्टी- अतीत, वर्तमान एवं भविष्य, विश्व के सबसे बड़े राजनीतिक दल की कहानी‘  दक्षिण एशियाई अध्ययन के स्नातक के छात्रों के पाठ्यक्रम (syllabus) का हिस्सा बनेगी।

इसे भी पढ़े-Indian Idol-11 ग्रैंड फिनाले : बूट पालिश तक कर चुके इस कंटेस्टेंट ने जीता खिताब, मां बेचती थी गुब्बारे

इंडोनेशिया के इस्लामिक विश्वविद्यालय में अंतरराष्ट्रीय संबंध विभाग के संकाय सदस्य हदजा मिन फदली ने मीडिया को बताया कि भारत के आम चुनाव में भाजपा की दो बार जीत के कारण शिक्षाविदों में पार्टी को लेकर रुचि बढ़ी है। हदजा ने बताया कि भारत की यात्रा के दौरान उन्हें किताब के बारे में जानकारी हुई। वे इंडिया फाउंडेशन  (India Foundation) द्वारा आयोजित कौटिल्य फेलोशिप कार्यक्रम के लिए भारत आए थे। उनका मानना है कि इंडोनेशिया के लोग भारत के साथ हमारे संबंधों को और मजबूत करना चाहते हैं और इसलिए रूलिंग पार्टी भाजपा को समझना जरूरी है। वहीं शांतनु गुप्ता ने कहा कि उनके काम को वैश्विक (Global) पहचान मिलना लेखक के तौर पर उनके लिए अच्छा है। गुप्ता ने योगी आदित्यनाथ की जीवनी और भारत में फुटबॉल पर एक किताब के अलावा पांच पुस्तकें लिखी हैं।

इसे भी पढ़े-भारत का प्रदर्शन रहा बेहद खराब, पहला टेस्ट न्यूजीलैंड ने आसानी से जीता

भाजपा का इतिहास

साल 1977  में आपातकाल की समाप्ति के बाद जनता पार्टी के निर्माण के दौरान जनसंघ का अन्य दलों के साथ विलय हो गया। इससे 1977 में पदस्थ कांग्रेस पार्टी को इसी साल आम चुनावों में हराना संभव हुआ। तीन वर्षों तक सरकार चलाने के बाद साल 1980 में जनता पार्टी का विघटन हो गया। इसके बाद  भारतीय जनता पार्टी का निर्माण हुआ। साल 1984 के आम चुनावों में केवल दो लोकसभा सीटें जीतने में सफल रही। इसके बाद राम जन्मभूमि आंदोलन ने पार्टी को मजबूती दी। साल 1996 में पार्टी लोकसभा में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी। इसे सरकार बनाने के लिए बुलाया गया, लेकिन यह महज 13 दिन चली।

साल 1998 के आम चुनावों के बाद भाजपा के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (National Democratic Alliance) हुआ। इसके बाद अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के नेतृत्व में  बनी सरकार जो 1 वर्ष चली। इसके बाद आम-चुनावों में राजग (NDA) को पूर्ण बहुमत मिला और अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के नेतृत्व में सरकार बनी। यह कार्यकाल पूरा करने वाली पहली गैर कांग्रेसी सरकार रही। साल 2004 के आम चुनाव में भाजपा हार गई। इसके बाद साल 2014 और साल 2019 में नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में भाजपा को बड़ी जीत मिली।

इसे भी पढ़े-देखें ट्रंप का बाहुबली अवतार, अमेरिकी राष्ट्रपति ने खुद अपने टि्वटर हैंडल पर शेयर किया वीडियाे

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments