Thursday, December 8, 2022
HomeChhattisgarhराजिम माघी पुन्नी मेला का आयोजन 16 फरवरी से होगा, मंत्री साहू...

राजिम माघी पुन्नी मेला का आयोजन 16 फरवरी से होगा, मंत्री साहू ने केंद्रीय समिति की बैठक ली

रायपुर. शनिवार को राजिम नगर पंचायत के मंगल भवन में राजिम माघी पुन्नी मेला (Rajim Maghi Punni Mela) की केंद्रीय समिति की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक की अध्यक्षता धार्मिक न्यास एवँ धर्मस्व मंत्री ताम्रध्वज साहू (Minister Tamradhwaj Sahu) ने की।  इस बैठक में राजिम माघी पुन्नी मेला (Rajim Maghi Punni Mela) की तैयारियों पर चर्चा के दौरान मंत्री श्री साहू ने बताया कि परंपरा के अनुरूप इस वर्ष राजिम माघी पुन्नी मेला का आयोजन 16 फरवरी से 1 मार्च तक होगा। 3 स्नान पर्व 16 फरवरी, 23 फरवरी एवं 1 मार्च 2022 को होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए इस मेला का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा को देखते हुए व्यवस्था पहले की तरह ही होंगी।

मेले (Rajim Maghi Punni Mela) की तैयारी के लिए लोक निर्माण विभाग को सड़कें चौड़ा करने, जल संसाधन विभाग को संगम और कुंड की तैयारी करने, वन विभाग को बांस बल्ली, पीएचई विभाग को पेयजल, शौचालय और अन्य संबंधित विभागों को उसके पूर्व अनुसार तैयारी करने के निर्देश दिए गए हैं। मंत्री ताम्रध्वज साहू ने गरियाबंद जिले के कलेक्टर नम्रता गांधी को इस संबंध में आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सांस्कतिक कार्यक्रम में स्थानीय समिति को प्रथमिकता दी जाएगी। यहां पर राज्य स्तर के कार्यक्रम भी आयोजित होंगे। इसके लिए मुख्य मंच के अलावा एक और स्टेज कुलेश्वर मंदिर के पास बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस बार मेले में स्थानीय संत महात्माओं को आमंत्रण दिया जाएगा। Rajim Maghi Punni Mela के दौरान जनप्रतिनिधियों और नागरिकों के सुझाव को भी महत्व देते हुए आयोजन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

 

इस दौरान प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत (Amarjit Bhagat) ने कहा कि विभाग द्वारा राजिम पुन्नी मेला (Rajim Maghi Punni Mela) के आयोजन में जो भी मदद की आवश्यकता होगी, दी जाएगी। उन्होंने इस संबंध में सभी आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विभागीय योजनाओं की जानकारी  स्टाल लगाकर दी जाएगी। राजिम विधायक अमितेश शुक्ल (Rajim MLA Amitesh Shukla) ने कहा की मेले में साफ सफाई की व्यवस्था पुख्ता हो तथा राजिम के आसपास जमीनों में हुए बेजा कब्जा को हटाया जाए। श्री शुक्ल ने कहा कि श्रद्धालुओं के लिए तीन स्थानों पर कम से कम दाल भात सेंटर की व्यवस्था की जाए। उन्होंने स्थानीय स्तर पर निगरानी समिति गठित करने के साथ ही स्थानीय कलाकार और अन्य जनप्रतिनिधियों को पुरस्कार हेतु विशेष तौर पर महत्त्व देने का सुझाव दिया। कलेक्टर नम्रता गांधी (Collector Namrata Gandhi) ने राजिम माघी पुन्नी मेला से संबंधित प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि गरिमा के अनुरूप मेले के आयोजन सुनिश्चित किया जाएगा।

 

बैठक में केन्द्रीय समिति के सदस्य, राजिम नगर पंचायत के अध्यक्ष श्रीमती रेखा सोनकर (President of Rajim Nagar Panchayat Smt. Rekha Sonkar), गोबरा नवापारा पालिका के अध्यक्ष धनराज मध्यानी, जनपद पंचायत फिंगेश्वर के अध्यक्ष श्रीमती पुष्पा साहू, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती लक्ष्मी साहू, स्थानीय जनप्रतिनिधि, कलेक्टर गरियाबंद नम्रता गांधी, पुलिस अधीक्षक जे आर ठाकुर (Superintendent of Police JR Thakur), जिला पंचायत सीईओ रोक्तिमा यादव, अफसर सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular