Saturday, January 29, 2022
HomeDesh/Videshवास्तुशास्त्र: सोते समय रखें सही दिशा का ध्यान, Negativity से रहेंगे दूर,...

वास्तुशास्त्र: सोते समय रखें सही दिशा का ध्यान, Negativity से रहेंगे दूर, महसूस करेंगे तरोताजा

वास्तुशास्त्र: अपने घरों में अपनी सुविधा अनुसार लोग किसी भी तरह सो जाते हैं। इसके कारण उनको Negativity सपने आते हैं और उनका मन उदास रहता है। दिन में सोकर उठने पर मन थका हुआ लगता है। वहीं सोने के लिए vastu shastra  में कुछ तरीके बताए गये हैं, अगर आप इनको अपनाते हैं तो आपके मन में Negative thought  आने बंद हो जाएंगे।

वास्तुशास्त्र कहता है कि पूर्व (East) या दक्षिण (South) दिशा में सिर रखकर सोना धर्म शास्त्रों के साथ ही सेहत के नजरिये से भी महत्वपूर्ण है। इसके उलट अगर दक्षिण दिशा की ओर पैर करके सोते हैं तो ये स्थिति सेहत पर Negativity प्रभाव डालती है। वास्तुशास्त्र और हिंदू धर्म ग्रंथों में दक्षिण को यम और पूर्व दिशा को देवताओं की दिशा बताया गया है। इसलिए इन दोनों दिशाओं की तरफ पैर रखकर सोने से दोष होने की  बात कही गई है।  ऐसा करने पर इसका नकारात्मक असर शरीर और मन दोनों पर पड़ता है।

इस पर क्या कहता है विज्ञान

विज्ञान कहता है कि पृथ्वी के उत्तरी और दक्षिणी ध्रुवों के भीतर चुंबकीय शक्ति होती है. वहीं शारीरिक संरचना के अनुसार सिर को उत्तर (North) और पैरों को दक्षिण (South) दिशा माना गया है।

जब उत्तर दिशा की तरफ सिर और दक्षिण दिशा की ओर पांव रखकर सोते हैं तो यह स्थिति प्रतिरोधक का काम करती है। विपरीत दिशाएं एक-दूसरे को आकर्षित करती हैं और समान दिशाएं प्रतिरोधक बन जाती हैं, जिसके चलते सेहत और मस्तिष्क (Brain) पर गहरा असर पड़ता है।

भगवान शिव की आराधना के लिए ये हैं मंत्र, जप करने से दूर होंगे संकट, मिलेगी धन-संपदा

यह माना गया है कि दक्षिण दिशा की ओर पैर रखकर सोने से व्यक्ति की शारीरिक ऊर्जा खत्म होती है।. इससे सुबह उठने पर अजीब सी थकावट महसूस होती है, जबकि दक्षिण या पूर्व दिशा की ओर सिर रखकर सोया जाए तो सुबह तरोताजा महसूस किया जा सकता है।

जानिए रंगों का महत्व

हफ्ते के हर दिन पहने अलग-अलग रंग के कपड़े: कहा जाता है व्यक्ति के जीवन में रंगों का बेहद महत्व होता है। अलग-अलग उत्साह और समृद्धि का प्रतीक माने जाते है। आइये यहां जानते हैं हफ्ते में किस दिन किस रंग के कपड़े पहनने चाहिए-

  • रविवार -इस दिन को भगवान सूर्य का प्रतीक माना गया है. सूर्य से जगत में ऊर्जा का संचार होता है। इस दिन पीले रंग के वस्त्र पहनना चाहिए।
  • सोमवार– इस दिन भगवान शिव और चंद्रदेव की आराधना की जाती है। भगवान शिव को सफेद फूल अर्पित किए जाते हैं, इसलिए कहा जाता है कि इस दिन सफेद, हल्के नीले रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए।
  • मंगलवार– इस दिन रामभक्त हनुमान की विशेष पूजा अर्चना की जाती है. हनुमान जी को लाल रंग प्रिय है, इसलिए इस दिन लाल रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए।

रोचक जानकारी : जानिए नेपाल के पशुपतिनाथ से जुड़े अद्भुत तथ्य, दर्शन से पहले यह काम न करें

  • बुधवार– इस दिन भगवान श्री गणेश की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। भगवान श्री गणेश को शमी पत्र और दूर्वा अतिप्रिय है। इसलिए इस दिन हरे रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए।
  • गुरुवार – इस दिन को भगवान विष्णु का दिन माना गया है। भगवान विष्णु पीतांबर धारण करते हैं. इसलिए इस दिन पीले रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए।
  • शुक्रवार – यह दिन माता लक्ष्मी का दिन माना गया है। इस दिन लाल या गुलाबी रंग के वस्त्र धारण करना चाहिए।
  • शनिवार – इस भगवान शनिदेव की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। शनिदेव को नीला और काला रंग प्रिय है। अतः काले और नीले रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए।

Twitter _  https://twitter.com/babapost_c

Facebook _ https://www.facebook.com/baba.post.338/

YouTube_सबस्क्राइब करें यूट्यूब चैनल

RELATED ARTICLES

Most Popular